एफिलिएट मार्केटिंग क्या है – एफिलिएट मार्केटिंग से पैसे कैसे कमाए?

दोस्तों Affiliate Marketing यह एक बहुत अच्छा Online Business है जिसके जरिये आप अच्छे पैसे कमा सकते है। आज बहुत से लोग ऐसे है जो Affiliate Marketing द्वारा अच्छे पैसे कमा रहे है।

यदि आप एफिलिएट मार्केटिंग से पैसे कमाना चाहते है, तो इसके लिए आपके पास एक Website, Blog, Facebook page या एक अच्छा सोशल मीडिया प्लेटफार्म होना जरूरी है। आपका ब्लॉग या आपकी वेबसाइट जिस टॉपिक से जुड़ीं हुई है उससे रिलेटेड जो भी प्रोडक्ट्स है उसका Affiliate करके आप अच्छे पैसे कमा सकते है।

आप भी Website, Blog, WhatsApp, Facebook या फिर किसी सोशल मीडिया से जॉइन होकर प्रोडक्ट्स को प्रमोट कर सकते है और Affiliate Marketing ऑनलाइन बिज़नेस करके बहुत अच्छे पैसे कमा सकते है।

what is affiliate marketing in hindi, what is affiliate programs in hindi, एफिलिएट मार्केटिंग क्या है, एफिलिएट मार्केटिंग से पैसे कैसे कमाए, affiliate marketing websites, affiliate marketing websites india, amazon affiliate marketing in hindi,

What Is Affiliate Marketing In Hindi – एफिलिएट मार्केटिंग क्या है?

जब हम अपने पसंदीदा ऑनलाइन प्लेटफार्म के जरिये किसी कंपनी या शॉपिंग साईट के प्रोडक्ट को प्रमोट करके सेल करते है और उस सेल से हमें कमीशन मिलता है, इसी प्रोसेस को Affiliate Marketing कहते है।

एफिलिएट मार्केटिंग यह पैसे कमाने का आसान और भरोसेमंद तरीका है। इसके लिए आपको किसी भी कंपनी का Affiliate Program जॉइन करना होता है, जो बहुत ही आसान और बिलकुल फ्री होता है।

ऑनलाइन मार्किट प्लेस में अभी बहुत सी ऐसी Companies है, जो एफिलिएट प्रोग्राम प्रोवाइड करती है, यह आपको अपने प्रोडक्ट्स को प्रमोट कर के सेल करने के बदले बहुत ही अच्छा कमीशन देती है।

Affiliate Marketing से रिलेटेड कुछ मुख्य बाते

दोस्तों एफिलिएट मार्केटिंग को पूरी तरह से समझने के लिए या जानने के लिए कुछ महत्वपूर्ण बाते है, जिसका विस्तृत विश्लेषण नीचे दिया गया है:

Affiliates Program: जो व्यक्ति Affiliate program को जॉइन होकर उनके प्रोडक्ट्स को अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर या फिर किसी अन्य सोर्सेज पर प्रमोट करता है, और जब वह प्रोडक्ट सेल होता है तब उन्हें काफी अच्छा कमीशन मिलता है, इन प्रोसीजर को Affiliates कहा जाता है।

Affiliate Marketplace: अभी Market Place में बहुत सी ऐसी online companies है, जो अलग अलग Subject या Product में Affiliate Program प्रोवाइड करती है उसे ही Affiliate Marketplace कहते है। इसीके जरिये हमें एफिलिएट प्रोग्राम को जॉइन करना पड़ता है जो बहुत ही आसान और फ्री होता है।

Affiliate ID: जब आप Affiliate program को जॉइन करते है, तब आपको उन साईट से आपको Affiliate ID मिलता है जो हमारी एक प्रकार की मेंबर ID होती है। जिससे वह साईट समझती है की यह प्रोडक्ट किस मेंबर द्वारा सेल हुवा है औए इसे ट्रेक करके आपका कमीशन आपके खाते में जमा होता है।

Affiliate Link: जब आप एफिलिएट प्रोग्राम जॉइन करोगे और आपको Affiliate ID मिल जायेगा, तब आपको अलग अलग प्रोडक्ट की Affiliate link बनानी पड़ती है और यह लिंक हमे अपने साइट पर या अन्य sources पर सेट करके प्रमोट करना होता है, और यह link सीधे redirect होता है उस Website पर जिसका आपने Affiliate link create किया है।

Commission For Sell: जब भी कोई प्रोडक्ट आपके link द्वारा सेल होता है तब आपको उसके लिए Commission मिलता है, और यह कमीशन अलग अलग प्रोडक्ट या कंपनी के लिए अलग अलग होता है।

Commission Example: उदाहरण के तौर पर देखा जाये तो: आपने अपने लिंक द्वारा एक Mixer Grinder सेल किया है, और उसकी किंमत समझो 10,000 है और इसपर यदि वह कंपनी 9% सेल कमीशन देती है, तो आपको इस सेल का 900 रू. कमीशन मिलेंगा।

Payment Method: जब भी आप एक निश्चित कमीशन प्राप्त कर लेते है, तब यह राशि आपके बैंक अकाउंट में एक निश्चित तारीख को जमा होती है, अलग अलग Affiliate programs की Payment Method और threshold अलग अलग होती है।

एफिलिएट मार्केटिंग कैसे शुरू करे?

अभी आपके मन में एक सवाल आया होंगा को, How to start Affiliate Marketing, एफिलिएट मार्केटिंग कैसे शुरू करे? इसका जवाब हमने निचे बहुत आसान शब्दों में दिया है:

  • सबसे पहले अपने प्रोडक्ट को चुने, जिसे आप आसानी से प्रमोट कर सकते है।
  • प्रोडक्ट को प्रमोट करने के लिए एक बेस्ट ऑनलाइन प्लेटफार्म डिसाइट करे, जैसे अपनी ब्लॉग या वेबसाइट बनाये, या कोई भी सोशल मीडिया प्लेटफार्म से जुड़े।
  • अपने पसंदीदा एफिलिएट प्रोग्राम साईट को जॉइंट करे और उनके नियमो का पालन करें।
  • अपने चुने हुए प्रोडक्ट के लिए बढ़िया कॉन्टेंट बनाएँ और उसमे प्रोडक्ट एफिलिएट लिंक को ऐड करे।
  • अपनी affiliate site पर एक अच्छा खासा ट्रैफ़िक लाएँ और affiliate links पर क्लिक प्राप्त करके सेल बढ़ाये।

Affiliate Marketing Websites India

दोस्तों एफिलिएट मार्केटिंग यह एक बहुत अच्छा और भरोसेमंद online business है, जिसके द्वारा आप बहुत ही जबरदस्त कमाई कर सकते है। तो दोस्तों आपके पास अच्छे खासे विजिटर है तो आप Affiliate programs ज़रूर जॉइन करे। हमने नीचे कुछ Affiliate Programs प्रोवाइड करने वाली Top Online Company की लिस्ट दी है जिसे आप फ्री में जॉइन कर सकते है:

  • Amazon Affiliate Programs
  • Flipkart
  • Tata Cliq
  • ShopClues
  • Jabong
  • Big Rock
  • MakeMyTrip
  • Agoda
  • Ebay
  • Snapdeal
  • HostGator
  • Blue Host
  • Hostinger
  • ClickBank
  • Digistore24

ये भी पढ़े:
1. Freelancing क्या है और फ्रीलांसिंग से पैसे कैसे कमाये?
2. Top 10 best online business ideas in hindi
3. Digital Marketing क्या है और कैसे करे?

FAQs For Affiliate Marketing In Hindi

एफिलिएट मार्केटिंग कैसे होती है?

एक व्यक्ति अपने पसंदीदा ऑनलाइन प्लेटफार्म के जरिये किसी कंपनी या शॉपिंग साईट के प्रोडक्ट को प्रमोट करके सेल करता है और उस सेल से वह कमीशन कमाता है, इस तरह एफिलिएट मार्केटिंग होती है।

एफिलिएट मार्केटिंग के लिए कौन सा प्लेटफॉर्म सबसे अच्छा है?

एफिलिएट मार्केटिंग के लिए Amazon, Flipkart, ClickBank, Digistore24, Tata Cliq, Ebay, Jabong, MakeMyTrip, Hostinger, Blue Host, Host Gator, Shop Clues, इत्यादी प्लेटफॉर्म सबसे अच्छा है।

क्या एफिलिएट मार्केटिंग आसान है?

यह एफिलिएट मार्केटिंग आसान नहीं है, लेकिन इसे ठीक से किया जाए, तो यह प्रभावशाली इनकम प्राप्त कर सकता है। एक अच्छा एफिलिएट मार्केटर बनने के लिए कौशल, अनुभव और बेहतर कार्य की आवश्यकता होती है।

तो दोस्तों यह थी, Affiliate Marketing, Affiliate Programs की जानकारी, जिसमे हमने एफिलिएट मार्केटिंग क्या है, एफिलिएट मार्केटिंग कैसे शुरू करे, एफिलिएट मार्केटिंग से पैसे कैसे कमाए, affiliate marketing websites, इत्यादी के बारे में जाना। आशा करते है की आपको यह पोस्ट अच्छी लगी होंगी, यदि हां तो हमें कॉमेंट्स करके बताये और अपने दोस्तों में जरुर शेयर करे।

About Rashmi Alone

I am a professional blogger from India. Here at "Hindi Sutra" I write all about Investment, Business, Internet, Management, Technology tips, Education, etc.

Leave a Comment