Insurance in Hindi | बीमा क्या है? बीमा के प्रकार, बीमा के लाभ

What is Insurance in Hindi: Insurance यह एक ऐसी स्कीम है, जो आज के समय में बहुत ही काम की और भविष्य में मदद करने के लिए बहुत ही फायदेमंद है। अगर आपके जीवन में कोई भी छोटी-बड़ी समस्या आये तो आप उन समस्याओं का समाधान Insurance के जरिये कर सकते है। किसी भी व्यक्ति के साथ दुखद घटना होने के बाद इन्शुरन्स कंपनी से उन्हें बहुत मदद मिलती है और इसलिए Insurance करना बहुत आवश्यक है।

तो इस पोस्ट में हम what is insurance in Hindi, बीमा क्या है और बिमा के प्रकार, Main Types of Insurance in Hindi, और बीमा के लाभ इन सब की जानकारी जानेंगे।

types of insurance- बिमा क्या है बिमा के प्रकार बिमा के फायदे

Insurance Meaning in Hindi

इन्शुरन्स का मतलब क्या होता है: Insurance को ही हिंदी में बीमा कहते है। बिमा का अर्थ ‘जिम्मेदारी लेना’ यह होता है और यह शब्द फारसी से आया है, जिसका अनुवाद डॉ. रघुवीर ने ‘आगोप’ ऐसा किया जिसका अंग्रेजी पर्याय Insurance है।

What Is Insurance in Hindi? बिमा क्या है? 

Insurance policy in Hindi: इन्शुरन्स या बिमा यह एक ऐसी स्कीम है जो भविष्य में मदद करने के लिए बहुत फायदेमंद होती है, जैसे आपका किसी भी प्रकार का नुकसान होने पर, कोई बड़ी बीमारी या दुर्घटना होने पर, या फिर मृत्यु के बाद कोई भी बिमा कंपनी आपको मुआवजा देने की गारंटी देती है।

आज के ऐसे भीड़ भाड़ वाले जीवन में किसे कब, क्या होगा यह कोई नही जानता, तो ऐसे समय में आपकी Insurance policy रही तो आपको बहुत मदद मिलती है, इसलिए आपको अपने मूल्यवान चीजों का इन्शुरन्स करना बहुत आवश्यक है।

मूल्यवान चीजों का जैसे – Home Insurance, Health Insurance, Car Insurance, Life Insurance ऐसे चीजों का सही तरीके से बीमा करना चाहिए, वो एक Backup के जैसा ही होता है और मुसीबत आने पर इन्शुरन्स आपके बहुत ही काम आता है ताकि आपको किसी प्रकार की परेशानी ना हो।

बीमा/इन्शुरन्स आपके और आपके परिवार को आर्थिक स्थिति से बहुत मजबूत बना देता हैं ताकि भविष्‍य में आपका कुछ नुकसान हो जाने पर या किसी कारण से आपकी मृत्‍यु हो जाती है या फिर किसी अन्य घटनाओं से आपका कोई नुकसान भी हो सकता है तो ऐसे समय में आपको या आपके परिवार को पैसों से सम्‍बन्धित किसी भी तरह की समस्‍या का सामना ना करना पडे।

ऐसे वक्त में आपको Insurance Policies का बहुत उपयोग होता है। Insurance यह एक Safe और Secure तरीका माना जाता है। इसलिए आज बिमा करना बहुत जरूरी और आवश्यक हुआ है।

बीमा कितने प्रकार के होते हैं और बीमा के लाभ

Types of Insurance in Hindi: बिमा के अलग अलग प्रकार होते है –

  • life Insurance
  • health Insurance
  • home Insurance
  • vehicle Insurance
  • travel Insurance 
  • crop & farmer Insurance
  • mobile Insurance
  • Personal Accident Insurance

यह बिमा के प्रकार है और इससे हमे क्या फायदे होते है इनकी सविस्तर जानकारी निचे दी गयी है।

1. Life Insurance

जीवन बिमा: Life Insurance यह Insurance Company और बिमा लेने वाले व्यक्ति के बीच एक प्रकार का Agreement होता है।

जिसमे इन्शुरन्स कंपनी यह गारंटी देती है की, भविष्य में Policy Holder की मृत्‍यु हो जानेपर उसके परिवार में से Nominee को Insurance Company द्वारा कंपनी के Terms and Condition के नुसार एक निश्चित राशि का भुगतान किया जाएगा। लेकिन ये राशि उतनी ही दी जाती है जितना उस व्‍यक्तिने बीमा करवाया था। और यह इस बात पर निर्भर करता है की, उस व्यक्ति की मृत्यु कब हुई, कैसे और किस वजह से हुई।

इसलिए लोग खास करके अपने परिवारों के लिए ही लाइफ इन्शुरन्स पालिसी छोड़ जाते है और ज्यादातर लोग इसे अपनाते भी है ताकि उनके जाने के बाद उनके परिवार के लोगो को उन पैसों से कुछ मदद मिल जाये और उन्हें आर्थिक स्थिति से कोई परेशानी ना आये। लाइफ इन्शुरन्स के भी कुछ प्रकार है।

Type of life insurance policies in India:

  1. Term Insurance – टर्म इन्शुरन्स
  2. Endowment Plan – एंडोमेंट प्लान
  3. ULIP Unit Linked Insurance Plans – यूलिप
  4. Money Back Policy – मनी बैक पालिसी और
  5. Whole Life Insurance – व्होल लाइफ इन्शुरन्स

Life Insurance Corporation of India (LIC) यानि भारतीय जीवन बीमा निगम यह भारत की सबसे बड़ी जीवन बीमा कंपनी है और देश की सबसे बड़ी निवेशक कंपनी भी है।

आज life Insurance Company जैसे मैक्स लाइफ इंश्युरंस, रिलायंस लाइफ इंश्युरंस इत्यादी Terms Insurance Plan देती है और इनका प्रीमियम भी कम होता है।

2. Health Insurance

स्वास्थ्य बीमा क्या है: Medical & Health Insurance या स्वास्थ्य बिमा यह एक तरह की बिमा सेवा ही है, जिसमे जिन्होंने हेल्थ इन्शुरन्स करवाया है उनके लिए कई आर्थिक संस्था द्वारा विभिन्न प्रकार की योजनायें होती है।

खास करके इस प्रकार का बिमा अस्पताल से संबधित कोई दुर्घटना या किसी रोग के समय मेडिकल, सर्जरी, बिल इत्यादि के लिए भुगतान करने में मदद करता है, लेकिन इसके लिए आपका हेल्थ इन्शुरन्स होना बहुत जरूरी है।

आजकल किसी की तबीयत कब ख़राब हो जाएगी या किसे कब क्या होगा, यह कोई नही जानता तो ऐसे में Health Insurance Policy बहुत काम आती है इसलिए यह policy होना बहुत आवश्यक है। आप अपनी आमदनी के नुसार स्वास्थ्य बिमा खरीद सकते है।

भारत में विभिन्न प्रकार की स्वास्थ्य बीमा योजनाएं उपलब्ध हैं। आप अपने ख़ुद के लिए और अपने परिवार के लिए सबसे अच्छी स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी चुन सकते हैं, ताकि बड़े चिकित्सा बिलों का भुगतान करने का समय आने पर आप इस स्वास्थ्य बीमा का उपयोग कर सकें।

स्वास्थ्य बीमा योजना न केवल चिकित्सा खर्चों के लिए कवर प्रदान करती है बल्कि प्रतिष्ठित नेटवर्क अस्पतालों में कैशलेस उपचार और गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य देखभाल जैसी सुविधाएं भी प्रदान करती है। स्वास्थ्य बीमा योजनाएं आपात स्थिति में आपके वित्तीय तनाव को कम करने में मदद कर सकती हैं।

3. Home Insurance in Hindi

घर का बीमा: आप अपनी कमाई से बहुत अच्छा सा घर बनवाते है ताकि आप अपने घर में सुरक्षित रह सके, तो आपको अपने घर का बिमा भी कर लेना चाहिए।

Home Insurance में घर का Structure, घर का सामान इन सब के अनुसार एक policy बनवायी जाती है, जिसमे यह बताया जाता है की, अचानक से कभी भूकंप, बाढ जैसी कोई दुर्घटना आयी, या फिर घर का कुछ सामान खराब हुआ तो आपका कुछ छोटा-बड़ा नुकसान हो जाता है तो उस नुकसान की सारी भरपाई बिमा कंपनी कर देती है।

आज बहुत से लोग अपने घर को सुरक्षित रखने के लिए Home Insurance या घर का बिमा निकालते है और इस प्रकार का बिमा करना भी बहुत जरूरी और आवश्यक हुआ है।

गृह बीमा के लिए कौन सा प्लान चुनना चाहिए?

Home insurance policy के तहत ऐसी योजना चुननी चाहिए जो न केवल घर की सुरक्षा करे बल्कि घर के सामान जैसे फर्नीचर, बिजली के उपकरण, पोर्टेबल उपकरण भी कवर करे। ताकि आगजनी या चोरी के मामले जैसी स्थिति में आपको ज्यादा आर्थिक नुकसान ना उठाना पड़े।

इसीलिए नीचे दी गई कई गृह बीमा योजनाएं हैं जो कीमती सामान की चोरी के मामले में बीमा कवर प्रदान करती हैं। इसके अलावा, यदि कोई प्राकृतिक आपदा में घर गिर जाता है, तो बीमा कंपनिया घर के पुनर्निर्माण के लिए भुगतान करती हैं। लेकिन इसके लिए आपको अपनी जरूरत के हिसाब से Best Home Insurance Plan चुनना चाहिए।

Best Home Insurance Plans in India – House Insurance in India

  • HDFC Ergo Home Shield Plan – एचडीएफसी एर्गो होम शिल्ड प्लान
  • SBI General Long Term Home Insurance Plan – एसबीआय जनरल लाँग टर्म होम इन्शुरन्स प्लान
  • Royal Sundaram Gruh Suraksha – रॉयल सुंदरम गृह सुरक्षा योजना
  • Oriental General House Holder Insurance Plan – ओरिएंटल जनरल हाऊस होल्डर इन्शुरन्स प्लान
  • New India Insurance Griha Suvidha Plan – न्यू इंडिया इन्शुरन्स गृह सुविधा प्लान

4. Vehicle Insurance

वाहन बीमा: आजकल तो सबके पास कार, मोटरसाइकिल, ऑटोरिक्षा इनमे से कोई ना कोई वाहन तो होता ही है तो उसका Insurance करवाना भी बहुत जरूरी है।

क्योकि किसी भी प्रकार की दुर्घटना होने पर यह वाहन बिमा हमे आर्थिक नुकसान से बचाने के काम आता है इसलिए Vehicle Insurance करवाना चाहिए। हमारे India में दो प्रकार के Vehicle Insurance होते है।

Types of vehicle insurance in India

A. Full party insurance

फुल पार्टी इन्शुरन्स इसे Standard motor insurance नाम से भी जानते है।

कभी दुर्घटना हुई तो इस प्रकार के इन्शुरन्स में सभी प्रकार का नुकसान जैसे गाड़ी, ड्राईवर और गाड़ी में बैठे वाले लोग और दुसरे गाड़ी की कोई छोटी-बड़ी टूट फुट होने पर और बाकी नुकसान की भी सारी भरपाई इन्शुरन्स कंपनी से मिलती है।

B. Third party insurance

इस प्रकार के इन्शुरन्स में आपके पास किसी प्रकार का जो भी वाहन है और उस वाहन से दुर्घटना हो जाती है तो ऐसे समय में Insurance company आपके सारे नुकसान की भरपाई कर देती है।

बल्कि आपको ही नही तो उसी वक्त दुसरे गाड़ी का भी कोई नुकसान हो जाता है तो उन्हें भी इन्शुरन्स कंपनी से मदद मिल जाती है लेकिन आपको या फिर आपकी गाड़ी का नुकसान होने पर इन्शुरन्स कंपनी किसी तरह का क्लेम नही देती, इसलिए इसे थर्ड पार्टी इन्शुरन्स कहते है। मोटर अधिनियम के अनुसार वाहन बिमा करना अनिवार्य है।

5. Travel Insurance

यात्रा बीमा/Travel Insurance यह आपके लिए बहुत फायदेमंद होती है कारण कभी आप अकेले या अपने परिवार के साथ लम्बे समय के लिए प्रवास कर रहे हो तो आपको कुछ ना कुछ समस्या आती है तो ऐसे समय में आपको Travel Insurance से मदद मिलती है।

आपको कभी travel करना है तो आप पहले से ही सबकुछ plan करके ही निकलते है, तब भी आपको यात्रा के दौरान किसी भी प्रकार की समस्या या फिर कोई भी परेशानी आयी और उस वक्त आप अकेले से कुछ मैनेज नहीं हो पाता है, तो ऐसे में आप ट्रेवल इन्शुरन्स की सहायता से आपकी परेशानी दूर कर सकते है।

एक बात यह है की, यात्रा में देरी होना जैसे की फ्लाईट डिले होना, या फिर फ्लाईट कैंसल होना या कोई दुर्घटना हो जाने पर आपका कोई नुकसान भी हो जाता है तो ऐसे समय में ट्रेवल इन्शुरन्स आपको आपके हुए नुकसान का पूरा खर्चा देती है, इसलिए Travel Insurance या यात्रा बिमा होना बहुत जरूरी है।

6. Crop insurance in hindi & Farmer insurance – फसल बिमा की जानकारी

अगर आप किसान हो तो आपको अपनी फसल का बिमा कराना चाहिए क्योकि मौसम का कुछ भरोसा नही किया जाता।

जिसकी वजह से आपकी खेती का बहुत नुकसान भी हो सकता है तो ऐसे वक्त में आपको फ़सल बीमा से कुछ मदद मिल सकती है, इसलिए हर साल आपको अपने फसल का बिमा कर लेना चाहिये।

Crop Insurance से आपकी फसल को एक प्रकार की सुरक्षा भी मिलेगी और अगर आपके फसल का कुछ नुकसान हुआ है तो ऐसे में Insurance Company आपके सारे नुकसान की भरपाई भी कर देती है।

इसलिए आपको Crop Insurance और Farmer Insurance करना बहुत जरुरी है। फसल बिमा की कुछ योजनाये भी है जिससे किसानों बहुत फायदा होता है।

Crop insurance scheme in India:-

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (Pradhan Mantri Fasal Bima Yojna) जिसे PMFBY भी कहते है। इस योजना की शुरुवात माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने जनवरी 2016 में की थी।

PMFBY यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण और फायदेमंद योजना है जो सरकार ने किसानों के लिए शुरू की है। यह स्कीम उन किसानों के लिए है जो अपने फसल का बीमा करवाना चाहते हैं ताकि उनका कुछ नुकसान हो जानेपर जैसे की बाढ़ आना और उससे उनकी फसल ख़राब हो जाने पर उन्हें कुछ मदद मिल जाये।

लेकिन इसमें बिना लोनवाले व्यक्ति ही apply कर सकते है और इस योजना के लिए उन्हें कुछ जरूरी डाक्यूमेंट्स देने पड़ते है जैसे की – आधार कार्ड, जमीन के कागज़ात की कॉपी इत्यादि। और जमीन के कागज पत्रों के साथ उन्हें कृषी बिमा करना पड़ता है ताकि उन्हें उनके जमीन के परिमाण नुसार प्रीमियम मिलेगा।

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojna की देखरेख Department of Agriculture, Cooperation and Farmers Welfare के द्वारा की जाती है।

7. Mobile Insurance

आजकल तो सब मोबाइल use कर रहे है, हर किसी के पास एक से बढ़कर एक मेहेंगे मेहेंगे मोबाइल है और यदि आप किसी के मोबाइल फोन को कभी भी कोई छोटा बड़ा नुकसान हो जाये तो ऐसे में आप Mobile Insurance का उपयोग कर सकते है।

अगर आपने मोबाइल का इन्शुरन्स किया है तो आपको Insurance company उसकी सारी भरपाई कर देती है इसलिए Mobile Insurance करना भी आवश्यक है।

8. Personal Accident Insurance in Hindi

Accidental Policy या दुर्घटना बीमा योजना में आप एक निश्चित राशी जमा करते है और जिस व्यक्ति की policy निकाली है उन्हें किसी प्रकार की दुर्घटना या कोई विकलांग हो जाने पर policy के Terms & Condition के अनुसार अस्पताल में भर्ती हो जाने के बाद उन्हें राशी दी जाती है।

अलग अलग इन्शुरन्स Policy के अलग अलग नियम और शर्ते होती है इसलिए उन नियम और शर्तों को पढ़कर ही Insurance करना चाहिए।

दुर्घटना बीमा योजना से भी हमे एक सबसे बड़ा फायदा यह होता है की, आपके साथ कोई भी दुर्घटना हो जाने पर आपका जो कुछ नुकसान हो जाता है तो आपको किसी भी तरह का खर्च नहीं उठाना पड़ता।

जिस Insurance Policy कंपनी में आपने Insurance करवाया है वही कंपनी आपका सारा खर्चा उठाती है, इसलिए यह policy होना बहुत आवश्यक है।

तो दोस्तों आपको बिमा क्या है इन हिंदी, What is Insurance, बिमा के प्रकार और बिमा हमे क्यों करना चाहिए और insurance policy in hindi के बारे में काफ़ी कुछ जानकारी मिली होंगी।

उम्मीद करते है की, अगर आप भी बिमा करना चाहते होंगे तो एक बात का ध्यान रखें की, बिमा की पूरी और सही जानकारी मिलने के बाद ही बिमा या Insurance करना चाहिए।

ये भी पढ़े:

तो आपको हमारी “What is Insurance Policy in Hindi | बीमा क्या है इन हिंदी | बिमा के प्रकार” यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों में शेयर करे और हमे comments करके ज़रूर बताये।

1 thought on “Insurance in Hindi | बीमा क्या है? बीमा के प्रकार, बीमा के लाभ”

Leave a Comment