Types of Bank Loan in Hindi – बैंक लोन के प्रकार, Bank loan detail in Hindi

Types of bank loans in India: आपको किसी काम के लिए पैसों की जरूरत होती है तो आप bank या किसी loan company से लोन ले सकते है। तो आपके सामने कई तरह के लोन के प्रकार होते है। जैसे की, पढ़ाई के लिए Education Loan, घर खरीदने या बनाने के लिए home loan, कार खरीदने के लिए car loan इस प्रकार के जो लोन है वह उसी काम के लिये दिए जाते है।

तो हम इस पोस्ट में Bank Loan in Hindi के बारे में जानेंगे की bank loan क्या है, what is bank loan in hindi, types of bank loan – लोन के प्रकार, different types of bank loan in hindi और bank loan के लिए आवश्यक दस्तावेज के बारे में पूरी जानकारी जानेंगे।

bank loan ki jankari, bank loan detail in hindi, what is loan in hindi, what is bank loan, bank loan, Loan Meaning in Hindi , home loan eligibility, personal loan in india, secured loans, Unsecured loans, Different types of bank loans, types of loan

Table of Contents

Loan Meaning in Hindi

Loan का मतलब “ऋण, कर्ज, उधार लेना” यह होता है।

Bank Loan Meaning in Hindi

बैंक लोन का मतलब “बैंक से कर्ज उधार लेना” यह होता है।

What is Loan in Hindi – बैंक लोन की जानकारी 

Bank loan in Hindi: एक ऋण अनिवार्य रूप से एक निश्चित समय और कार्यकाल के अंदर वापसी के वादे के साथ उधार लिया गया धन होता है। ऋणदाता ब्याज की एक निश्चित दर तय करता है जो आपको उधार ली गई धनराशि पर मूल उधार राशि के साथ चुकानी होती है।

हर प्रकार के लोन पास होने की अलग अलग प्रकिया होती है। और अलग अलग प्रकार के लोन पर ब्याज दर भी अलग हो सकता है।

Types of Bank Loan in Hindi – लोन के प्रकार

Different types of bank loans: दोस्तों loan के secured loans और unsecured loans ऐसे दो प्रकार होते है और इन दो प्रकारों को नीचे दिए गये प्रकारों में विभाजित किया गया है।

A) Secured loans – सुरक्षित लोन के प्रकार

सुरक्षित ऋण ये वे ऋण होते है जिसे देने के लिए bank कोई संपत्ति गिरवी रखने के लिए कहती है। यानि आपको ऋणदाता (lender) को उस धन के लिए सुरक्षा प्रदान करनी होती है, जिसे आप उधार के तौर पर ले रहे हैं। यदि आप कर्ज चुकाने में असमर्थ रहे, तो lender के पास अपने पैसे वसूल करने के कुछ साधन होते हैं। तो सुरक्षित लोन में नीचे दिए गये लोन के प्रकार आते है –

  1. Home Loan – होम लोन
  2. Gold Loan – गोल्ड लोन
  3. Loan against property – प्रॉपर्टी लोन
  4. Loan against Insurance Policy – इंश्योरेंस पालिसी से लोन
  5. Car Loan – कार लोन

तो इन secured loans के different types of bank loans के बारे में नीचे विश्लेषण में जानते है।

1. Home Loan – होम लोन की जानकारी हिंदी में

घर या फ्लैट खरीदना यह एक बहुत बड़ा और महत्वपूर्ण डिसीजन होता है और यह एक आपका बड़ा investment ही होता है। और घर बनाना यह आम आदमी का एक सपना भी होता है और वह उसे पूरा करना चाहता है। लेकिन उन्हें जमा की गयी पूंजी कम पड़ती है इसलिए ऐसे लोग होम loan का रास्ता अपनाते है।

ज़्यादातर लोग घर खरीदने या बनाने के लिए होम लोन लेते है। होम लोन लेने के लिए bank सबसे पहले आपकी income कितनी है यह देखती है और उसी हिसाब से आपको लोन offer करती है। होम लोन का interest rate भी दूसरे लोन के मुकाबले कम होता है।

होम लोन के लिए आवश्यक दस्तावेज

home loan लेने के लिए आपको कुछ आवश्यक documents की ज़रूरत पडती है होम लोन के लिए कोनसे आवश्यक दस्तावेज चाहिए वह निचे दिया गया है –

  • आपके हस्ताक्षरसहित पूरी तरह से भरा हुआ आवेदन पत्र
  • पहचान और निवास प्रमाण जैसे कि आधार कार्ड , पैन कार्ड, वोटर आईडी कार्ड इत्यादी
  • पिछले 2 महीने की सैलरी स्लिप
  • नवीनतम फॉर्म 16 और तीन महीने का बैंक स्टेटमेंट
  • संपत्ति के दस्तावेज

एक बात ध्यान रखना की loan processing के दौरान किसी भी अतिरिक्त documents की जरूरत पड़ सकती है। उस डॉक्यूमेंट की आवश्यकता होने पर आपको इसके बारे में बता दिया जाता है।

Home Loan Eligibility – होम लोन के लिए क्या पात्रता चाहिए?

नीचे दिए गये कुछ मुख्य कारक है, जो होम लोन के लिए पात्रता निर्धारित करते है।

  1. होम लोन आवेदक की आयु 18-70 वर्ष होनी चाहिए। कुछ बैंक salaried, self employed और self employed professionals के लिए अलग-अलग आयु रखते है।
  2. आवेदक की monthly income 25,000 रुपये से अधिक होनी चाहिए। यदि आपकी मासिक आय 25,000-40,000 रुपये के बीच है। तो आप लोन के लिए पात्र हो सकते है।
  3. वेतनभोगियों (Salaried) के लिए 3 साल या उससे अधिक Work Experience और Self Employed के लिए बिजनेस स्टैबिलिटी 5 साल या उससे अधिक होनी चाहिए।
  4. उच्च ऋण पात्रता प्राप्त करने के लिए 3 से अधिक आयवाले परिवार के सदस्यों को जोड़ा जा सकता है।

2. Gold Loan – गोल्ड लोन की जानकारी

परिसंपत्ति वर्गों में से सबसे लंबे समय के लिए सोना यह एक सबसे पसंदीदा रहा है। लेकिन सोने पर लोन लेने के लिए आपको स्वर्ण, आभूषण, ज़ेवर या सिक्के को Collateral के रूप में गिरवी रखना पड़ता है।

आप अपने सोने के ज़ेवर, आभूषण या सिक्के को bank या gold loan company को गिरवी रखकर लोन ले सकते है। ध्यान रहे की गोल्ड लोन का कालावधि बहुत कम होता है। इस लोन का उपयोग आम तौर पर एक छोटी अवधि की जरूरतों को पूरा करने के लिए किया जाता है।

अगर आप लोन का भुगतान नही कर पाते है, तो bank या gold loan company आपके आभूषण या ज़ेवर को बेचकर अपना लोन वसूल लेती है। इस लोन में होम लोन और प्रॉपर्टी के मुकाबले लोन की तुलना में कम पुनर्भुगतान होता है। Types of bank loan

गोल्ड लोन के लिए आवश्यक दस्तावेज़

Gold loan के लिए अप्लाई करने के लिए किन documents की आवश्यकता होती है यह निचे दिया गया है –

  1. Identity proof: पहचान प्रमाण के तौर पर पैन कार्ड, आधार कार्ड, मतदाता पहचान पत्र या पासपोर्ट प्रति
  2. Residence address: रेंट एग्रीमेंट, ड्राइविंग लाइसेंस, आधार कार्ड या वोटर आईडी कार्ड
  3. Passport size photo

Online gold loan लेने के लिए बेस्ट बैंक

सभी बैंकों के गोल्ड लोन की दरों की तुलना के आधार पर HDFC Bank, Yes Bank, ICICI Bank, Andhra Bank, IndusInd Bank 9.90% से 11.5% की सीमा में सबसे कम gold loan interest rates देते है।

इसी तरह, processing fees की तुलना के आधार पर, IIFL, Federal Bank, Andhra Bank सोने के मुकाबले कर्ज लेने के लिए सबसे अच्छे बैंक हैं, क्योंकि वे निल चार्ज की सबसे कम प्रोसेसिंग फीस लेते हैं।

3. Property Loan – प्रॉपर्टी लोन की जानकारी

Loan against property – कर्जा लेने वाला व्यक्ति किसी प्रॉपर्टी को खरीदने के लिए इस प्रकार का लोन लेता है। जो प्रॉपर्टी उसे ख़रीदनी है, उस प्रॉपर्टी के आधार पर यह लोन दिया जाता है। यदि तय किये गये समय में लोन लेने वाला व्यक्ति लोन नहीं चुका पाता, तो bank खरीदी गयी प्रॉपर्टी या संपत्ति को जब्त करता है या उसे बेचकर अपना लोन वसूल करता है।

सभी बैंकों का loan against property interest rate अलग अलग हो सकता है। इसलिए आपको bank में जाकर पूरी जानकारी प्राप्त करनी होती है।

Loan against property documents required

Salaried – वेतनभोगी व्यक्ति के लिए कोनसे आवश्यक दस्तावेज लगते है यह नीचे दिए गये है।

  • Latest Salary Slips – वेतन पर्ची
  • पिछले 3 महीनों का Bank account statements
  • Pan card / aadhar card – पैन कार्ड / आधार कार्ड
  • Address proof – पते का प्रमाण
  • IT returns – आईटी रिटर्न
  • गिरवी रखी जानेवाली संपत्ति के दस्तावेजों की कॉपी

Loan against property के लिए Self-employed को आवश्यक कागज़ात चाहिए होते है, जिसकी लिस्ट नीचे दी गयी है।

  • पिछले 6 महीनों का Bank account statements
  • Pan card / aadhar card – पैन कार्ड / आधार कार्ड
  • Address proof – पते का प्रमाण
  • संपत्ति को गिरवी रखने के दस्तावेजों की प्रति

ध्यान दें कि loan processing के दौरान, अतिरिक्त documents की भी आवश्यकता हो सकती है।

4. Loan against Insurance Policy – इंश्योरेंस पॉलिसी के लोन की जानकारी

अगर आपके पास पहले से ही जीवन बीमा पॉलिसी है, तो आपको आसानी से लोन मिल सकता है। इस प्रकार का लोन लेने का सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि, इसमें आपको पर्सनल लोन की तुलना में कम ब्याज चुकाना पड़ता है। और लोन भी आसानी से मिल जाता है।

NBFC या bank यह Endowment policy, money back policy के एवज में लोन देती हैं। इसके अलावा इन्शुरन्स कंपनी भी बीमा पॉलिसी पर लोन देती है। और ध्यान दे की, यह लोन आपको term plan और ULIP के एवज में नहीं मिलता है।

लोन अगेंस्ट इन्शुरन्स पॉलिसी के लिए आवश्यक कागज़ात

Loan against Insurance Policy के लिए आपको loan application form भरना होता है और लोन लेने के लिए अपनी जीवन बीमा पॉलिसी का Original documents, एक cancel cheque और आवेदन फार्म के साथ मांगे गए सभी दस्तावेज submit करने होते है। और आपको अनुबंध पत्र पर स्वाक्षरी करनी होती है।

Interest Rate:- Insurance Policy पर ब्याज दर premium amount और भुगतान किये गए प्रीमियम की संख्या पर depend करता है। प्रीमियम और प्रीमियम की संख्या जितनी अधिक होगी, उतना ही ब्याज दर कम होंगा।

5. Car Loan – कार लोन की जानकारी

हर एक व्यक्ति को ऐसा लगता है की, अपने पास एक अच्छी कार या गाड़ी होना, लेकिन उसे ख़रीदने के लिए उनके पास पर्याप्त राशि नही होती है। इसलिए वह car loan की मदद से कार ख़रीद लेता है, ऐसी बहुत सी banks है जो कार या व्हेहिकल लोन देती है। अगर आप पुरानी कार या गाड़ी खरीदना चाहते है तो भी आप कार या व्हेहिकल लोन ले सकते है। कार लोन की अवधि साधारण 3 से 5 साल तक होती है।

ये भी पढ़े:-

B) Unsecured loan – असुरक्षित लोन के प्रकार की जानकारी

Unsecured loans meaning in hindi: इसमें कर्ज लेनेवाले व्यक्ति को bank के पास किसी भी तरह की संपत्ति को गिरवी नहीं रखना पड़ता है। इस प्रकार का लोन पूरी तरह से कर्ज लेनेवाले व्यक्ति के क्रेडिट स्कोर को देखकर दिया जाता है। असुरक्षित लोन में नीचे दिए गये लोन के प्रकार आते है –

  1. Personal loan – व्यक्तिगत लोन
  2. Education Loan – शिक्षा लोन

इन unsecured loans के प्रकार के बारे में नीचे विश्लेषण में जानते है।

1. Personal Loan – व्यक्तिगत लोन क्या है?

What is personal loan in hindi – पर्सनल लोन यह असुरक्षित लोन है जो bank द्वारा दिया जाता है। bank आपके अच्छे credit score के आधार पर यह loan provide करती है। यह असुरक्षित लोन होने के कारण इसका ब्याज दर भी दुसरे लोन की तुलना में जैसे की होम लोन, कार लोन इससे काफ़ी ज्यादा होता है।

Personal loan कैसे ले ?

व्यक्तिगत लोन आपको जल्दी मिल सकता है, इसके लिए आपको ज्यादा कागज़ात देने की जरूरत भी नही होती है। लेकिन लोन देने से पहले bank आपकी income और क्रेडिट स्कोर चेक करता है अगर आपका क्रेडिट स्कोर अच्छा होता है, तो ही आपको पर्सनल लोन मिल सकता है।

Personal loan ke liye kya document chahiye?

व्यक्तिगत ऋण के लिए कौन से दस्तावेज़ आवश्यक है – हर बैंक में दस्तावेजों की लिस्ट अलग हो सकती है, लेकिन यहा हम कुछ मुख्य कागज़ात के बारे में जानते है।

  1. Identity Proof: पहचान प्रमाण के तौर पर पैन कार्ड, आधारकार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, मतदाता पहचान पत्र, पासपोर्ट
  2. Address Proof: पते का प्रमाण – आधारकार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड
  3. Salary Slip: सैलरी स्लिप
  4. self-employed के लिए 3 साल का इनकम टैक्स रिटर्न

इन documents के अलावा भी कुछ और कागज़ात की जरूरत पड़ सकती है, तो आप bank जाकर पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते है।

Personal loan EMI calculator: पर्सनल लोन ईएमआई कैलकुलेटर यह आपके loan amount, interest rate और लोन का कालावधि इन बातों पर निर्भर करता है। पर्सनल लोन का कालावधि साधारण 12 महीने से लेकर 60 महीने तक होता है।

2. Education Loan – शिक्षा लोन के बारे में कुछ जानकारी

हर क्षेत्र में सभी सुविधाओं का ख़र्च बढ़ता जा रहा है और उसके उसके साथ साथ एजुकेशन का भी ख़र्चा काफी बढ़ रहा है। ऐसी स्थिति में युवाओं को अपने सपने पूरे करने के लिए काफ़ी पैसों की ज़रुरत होती है। और

आप भारत में या विदेश जाकर high education/उच्च शिक्षण लेना चाहते है पर उसके लिए ज्यादा पैसों की ज़रुरत पड़ती है। परिवार की आर्थिक स्थिति सही न होने के कारण बहुत से ऐसे युवाए है जो अपनी पढाई पूरी नहीं कर पाते है। ऐसी स्थिति में आप एजुकेशन लोन या शिक्षा लोन की मदद से जरिये आप अपनी पढाई पूरी कर सकते है। इस लोन पर ब्याज दर भी कम होता है और शिक्षा लोन के भुगतान पर आपको tax benefit भी मिलते है।

एजुकेशन लोन का interest rate आपको पढाई के दौरान चुकाने की आवश्यकता नहीं होती है। पढाई पूरी होने के बाद भी आप लोन के भुगतान को शुरूवात कर सकते है।

तो आपको “bank loan detail in hindiLoan Meaning in Hindi और Different types of bank loans के बारे में काफ़ी जानकारी मिली होंगी, और आपको इसके अलावा और कुछ information चाहिए हो, तो आप bank या loan company में जाकर जानकारी प्राप्त कर सकते है।

और आशा करते की आपको हमारी “बैंक लोन क्या है – लोन के प्रकार” यह पोस्ट अच्छी लगी होंगी, तो अपने दोस्तों में ज़रूर share करे और हमे comments करके ज़रूर बताये।

3 thoughts on “Types of Bank Loan in Hindi – बैंक लोन के प्रकार, Bank loan detail in Hindi”

  1. Have you ever thought about including a little bit more than just your articles?

    I mean, what you say is valuable and everything.
    But imagine if you added some great visuals or video clips to give your posts more, “pop”!
    Your content is excellent but with images and videos, this blog could certainly be one of
    the best in its niche. Superb blog!

    Reply

Leave a Comment