Kanban System In Hindi | Kanban Principles, Process, Example

आज हम kanban system in hindi के बारे में जानेंगे, कनबन यह एक जापानी शब्द है जिसका उपयोग lean manufacturing और just-in-time manufacturing (JIT) के लिए एक शेड्यूलिंग सिस्टम के लिए किया जाता है। इस प्रणाली में प्रोडक्शन कस्टमर की मांग पर आधारित होता है, बल्कि ऐसा नहीं की, पहले ही सामग्री का उत्पादन करके उन्हें market में धकेले जाये।

kanban system in hindi, kanban meaning in hindi, kanban in hindi, what is kanban in hindi, kanban kya hai, kanban full form, कनबन प्रणाली क्या है, types of kanban in hindi, कनबन सिस्टम के प्रकार, कनबन क्या है,

तो आगे हम kanban system की और जानकारी जानेंगे जैसे की, kanban definition, types of kanban, kanban board example, kanban system in hindi, कनबन कार्ड क्या है, कनबन के फ़ायदे, kanban principles के बारे में पूरी जानकारी जानेंगे।

Table of Contents

Kanban Meaning In Hindi – Kanban System In Hindi

“कनबन” एक जापानी शब्द है जिसका अर्थ “साइन बोर्ड” या “बिल बोर्ड” होता है।

Kanban Definition – कनबन की परिभाषा

Kanban definition in hindi: कनबन यह एक जापानी प्रणाली है जिसका उपयोग lean manufacturing और just-in-time manufacturing (JIT) के लिए एक शेड्यूलिंग सिस्टम के रूप में किया जाता है। जो आपको यह बताता है की, उत्पादन क्या करना है, कितना उत्पादन करना है और कब उत्पादन करना है।

What Is Kanban System In Hindi

kanban system यह एक दृश्य प्रणाली है जिसे कार्य को प्रबंधित करने और उसे ट्रैक रखने के लिए किया जाता है क्योंकि यह एक प्रक्रिया से गुजरता है।

कनबन का लक्ष्य आपकी प्रक्रिया में संभावित अड़चनों की पहचान करना और उन्हें ठीक करना है, ताकि काम को एक बेहतर गति मिल सके या प्रोसेस पर की लागत प्रभावी रूप से प्रवाहित हो सके।

kanban यह एक ऐसा तरीका है जो काम के सभी क्षेत्रों में लागू होता है, जिससे टीम को लागत कम करने में मदद मिलती है और वर्कफ़्लो को विज़ुअलाइज़ करने और सुधारने के द्वारा अधिक कुशल हो जाता है। कानबन आपको एक स्थायी प्रतिस्पर्धी लाभ बनाने और अपनी टीम को और अधिक, तेजी से पूरा करने के लिए सशक्त बनाने की सुविधा देता है।

आज कल Kanban Software’s का उपयोग उद्योगों और इंडस्ट्री में scheduling system के लिए किया जा रहा है।

Objectives Of Kanban System – कनबन प्रणाली का उद्देश

कनबन प्रणाली का मुख्य उद्देश manufacturing में निपुणता लाना, manufacturing process में पारदर्शिता लाना, कार्यक्षमता को बढ़ावा देना, अधिक लागत पैदा किए बिना ग्राहक को अधिक मूल्य प्रदान करना और उत्पादकता का त्याग किये बिना बेकार गतिविधियों को कम करना है।

इसका उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि आप केवल वही प्रोडक्शन करें जो ग्राहक आपको मांग रहा है। इसका मतलब यह है कि प्रोडक्शन कस्टमर की मांग पर आधारित होता है। ऐसा नही की पहले ही सामानों का उत्पादन करके उन्हें market में धकेले जाये।

Kanban History – कनबन प्रणाली का इतिहास

कनबन एक inventory control system है, जिसका उपयोग सिर्फ समय निर्माण में ही किया जाता है। Toyota के एक industrial engineer “Taiichi Ohno” (ताइची ओहनो) ने 1940 के दशक में manufacturing efficiency और process में सुधार के लिए कनबन इस scheduling system को विकसित किया था, जो pull system पर आधारित है।

इसे एक साधारण नियोजन प्रणाली के रूप में बनाया गया था, जिसका उद्देश्य उत्पादन के प्रत्येक चरण में काम और inventory को नियंत्रित करना और उसका प्रबंधन करना था। कनबन प्रणाली की जरिये शेड्यूलिंग सिस्टम द्वारा कार्य की प्रगति के बारे में साइन बोर्ड पर सूचित किया जाता है।

Kanban Principles – कनबन के सिद्धांत

kanban system Principles in hindi: कनबन प्रणाली से संबंधित चार महत्वपूर्ण सिद्धांत है जिसके बारे में निचे सविस्तर दिया गया है

1.Visualize your workflow – अपने वर्कफ़्लो की कल्पना करें।

kanban method को अपनाने और उसे लागू करने का यह एक पहला कदम है। इसमे पूरा वर्क फ्लो कनबन प्रणाली के नुसार आगे बढ़ता है, जिससे निरिक्षण करना बहुत आसान होता है। अगर प्रोसेस करते समय किसी प्रकार की कमी सामने आ जाती है, तो उसका तुरंत ही पता लगता है और उसी वक्त आयेवाली समस्या या कमी को दूर करने में आसानी हो जाती है।

2. Limit Work in Process – प्रक्रिया में सीमा कार्य

कनबन प्रणाली का लक्ष्य शुरुआत से लेकर अंत तक हर एक काम को कुशलतापूर्वक आगे बढ़ाना है। इस अवधारणा के अनुसार सभी प्रकिया को एकदम पास से देखा जा सकता है। इसके लिए पाइपलाइन में काम की मात्रा को सीमित किया जाता है और जिससे काम को निश्चित समय सीमा में ही पूरा किया जाता है।

kanban system यह pull system पर आधारित होने के कारण इसमे काम को कभी आगे नहीं बढ़ाया जाता है, इसलिए यह काफ़ी मात्रा में बाधाओं से बचा जाता है। इसमे customer की मांग के नुसार किसी प्रोडक्शन के काम को कम-ज्यादा किया जा सकता है। इसलिए कम से कम कचरा और अंतराल संभव हो सकता है।

3. Focus on flow – प्रवाह पर ध्यान दें।

जब कनबन प्रणाली के पहले दो सिद्धांत लागू होते हैं, तो काम स्वतंत्र रूप से होता है और आसान लगता है। इसलिए आपका पूरा ध्यान प्रवाह में आने वाले किसी भी रुकावट, समस्याओं पर केंद्रित होना चाहिए और उसमे किसी प्रकार की समस्या आती है तो तुरंत ही उसे निस्तारने के लिए प्रयास करना चाहिए। ये अतिरिक्त visualization और process improvement के अवसरों का प्रतिनिधित्व करते हैं।

4. Continuous Improvement – निरंतर सुधार

Kanban प्रणाली कंपनी के उत्पादन प्रणालियों में निरंतर और स्थायी सुधार की वकालत करती है। कनबन का महत्वपूर्ण सिद्धांत निरंतर सुधार करना यह है। improve करने के लिए अगले सर्वोत्तम तरीके की तलाश के लिए दृष्टिकोण को निरंतर निगरानी और विश्लेषण की आवश्यकता होती है। कनबन कुछ ऐसा नहीं है जो कभी समाप्त हो जाये, अगर आप अपनी company या संगठन में इसका उपयोग कर लेते है तो यह कभी समाप्त नही होता।

कंपनी में kanban system का उपयोग किया तो सभी कर्मचारियों के काम पर नज़र रख सकते है, इससे कर्मचारी अपने काम बेहतर और अधिक दक्षता से करेंगे इससे उन्हें यह फ़ायदा होगा उनकी प्रभावशीलता और काम करने की कुशलता बढने में मदद मिलेगी। और यह भी अन्य संभावित रूप से समस्या क्षेत्रों में जहां अतिरिक्त ध्यान की जरूरत होती है वहा पर प्रकाश डाला जा सकता है।

Types Of Kanban In Hindi – कनबन के प्रकार

कनबन प्रणाली में आसन्न अपस्ट्रीम और डाउनस्ट्रीम वर्कस्टेशन एक दूसरे के साथ अपने कार्ड के माध्यम से संवाद करते हैं, जहां प्रत्येक कंटेनर में एक कनबन जुड़ा होता है। कनबन के मुख्य दो महत्वपूर्ण प्रकार होते है, जिसकी जानकारी निचे दी गयी है।

1. Production Kanban – उत्पादन कनबन

उत्पादन कनबन जो उत्पादों की एक निश्चित मात्रा का उत्पादन करने के लिए कार्य केंद्र को अधिकृत करता है। P-kanban याने प्रोडक्शन कनबन उन कंटेनरों पर ले जाया जाता है, जो इसके साथ जुड़े हुए होते हैं

2. Transportation Kanban – परिवहन कनबन

परिवहन कनबन को उन कंटेनरों पर ले जाया जाता है जो परिवहन के साथ फिर से लूप के माध्यम से जाने के लिए जुड़े होते हैं। T-kanban याने परिवहन कनबन यह downstream workstation में पूर्ण कंटेनर के परिवहन को अधिकृत करता है।

Benefits Of Kanban – कनबन प्रणाली के लाभ

कनबन प्रणाली यह एक बहुत ही सरल और आसान प्रणाली है। अपने कंपनी या संगठन में इसका उपयोग करने से कई फायदे होते है, तो आगे हम advantages of kanban – कनबन प्रणाली के फ़ायदे क्या है यह जानते है।

  1. Simple and easy system
  2. Reduction in the costs and wastage
  3. Flexibility
  4. Focus on continuous delivery
  5. Increased efficiency
  6. Increased productivity
  7. Improved company culture

इन सभी का विश्लेषण निचे सविस्तर रूप से दिया गया है।

1. Simple and easy system – सरल और आसान प्रणाली

Kanban यह एक बहुत ही सरल और आसान प्रणाली है, जो इस प्रणाली को प्रभावी ढंग से लागू करने के लिए किसी कंपनी के प्रबंधन के लिए व्यावहारिक बनाती है।

2. Reduction in the costs and wastage – लागत और अपव्यय में कमी

कनबन सिस्ट्म को लागू करने का मुख्य फ़ायदा यह होता है की कंपनी की लागत और अपव्यय में कमी होती है। यह प्रणाली कंपनी के मौजूदा सिस्टम को आगे बढ़ाने के लिए डायरेक्ट कंपनी की सहायता करके इन्वेंट्री के प्रवाह और प्रबंधन में सुधार करता है, यानी सिर्फ समय में (JIT) और ऑर्डर करने के लिए जो लागत को कम या वहन करता है और यह सुनिश्चित करता है कि सूचियों को चलाने में आसानी हो।

3. Flexibility – लचीलापन

सबसे पहले कनबन प्रणाली फ्लेक्सिबल है। लगातार उतार-चढ़ाव वाले बाजार में, आपकी व्यावसायिक प्रक्रियाओं को लचीला होना चाहिए। कई कंपनियों के लिए व्यापार की चपलता के लिए Flexibility याने लचीलेपन की आवश्यकता होती है। मांग में जल्दी से प्रतिक्रिया करना उतना ही महत्वपूर्ण है जितना कि बाजार में बदलाव का जवाब देना।

4. Focus on continuous delivery – सतत वितरण पर ध्यान दें

kanban system का उपयोग करने का एक और फ़ायदा यह है की, सतत वितरण पर ध्यान केंद्रित करना है। ग्राहक को लगातार एक परियोजना के छोटे हिस्से वितरित करके, टीमों के पास अद्यतन व्यावसायिक आवश्यकताओं के साथ भविष्य के पुनरावृत्तियों को सिंक्रनाइज़ करने के लिए कई अवसर हैं। इस तरह, टीमें यह सुनिश्चित कर सकती हैं कि वे ग्राहक को वही प्रदान कर रहे हैं जो वे चाहते हैं।

5.Increased efficiency – दक्षता में वृद्धि

कनबन का उपयोग करने का सबसे बड़ा फ़ायदा यह होता है की, आपके संगठन में विधि लागू होने के तुरंत बाद ही होने वाली flow efficiency यानि प्रवाह दक्षता में सुधार होता है। हर product manager की यहीं इच्छा होती है कि वे ज्यादा से ज्यादा काम कर सकें।

kanban board पर बाधाओं, रुके हुए कार्य और प्रगति में बहुत ज्यादा कार्य स्पष्ट रूप से दिखाई देते हैं। कनबन प्रणाली प्रत्येक बाधा को खत्म करने के बजाय अपने प्रक्रिया को सरल, और अधिक कुशल बनाता है।

6. Increased productivity – बढ़ती हुई उत्पादकता

बेहतर दक्षता स्वाभाविक रूप से अगले कनबन लाभ की ओर ले जाती है, जो उत्पादकता में वृद्धि है। काम शुरू से लेकर फिनिशिंग के काम तक फोकस शिफ्ट करने से आपकी प्रोडक्टिविटी में फायदा होता है।

कनबन प्रणाली में cycle timeऔर throughput यह प्रमुख उत्पादकता के मीट्रिक हैं। साइकिल टाइम यानि चक्र समय यह मापता है कि, किसी कार्य को आपकी प्रक्रिया से गुजरने में कितना वक्त लगता है, और एक निश्चित समय के कालावधि के दौरान कितने कार्य दिए जायेंगे। अपने चक्र के समय और थ्रूपुट पर नज़र रखना लगातार आपको दिखाता है कि समय के साथ आपकी उत्पादकता कैसे बदलती है। जितनी तेजी से कार्य आपकी प्रक्रिया से आगे बढ़ सकते हैं, उतने अधिक कार्य पूरे हो सकते हैं!

7. Improved company culture – कंपनी की संस्कृति में सुधार

kanban system की माध्यम से टीम के सदस्यों, मैनेजर्स, हितधारकों और ग्राहकों के बीच मजबूत collaboration यानि सहयोग से मनोबल और समावेशित कंपनी के संस्कृती में सुधार किया जाता है।

कंपनी या संगठन के सभी लोगों की राय और विचार को महत्वपूर्ण माना जाता है। इससे उनकी स्वतंत्रता और पहल को प्रोत्साहित किया जाता है, याने की टीम के सभी सदस्यों को उनकी रचनात्मकता और प्रतिभा प्रकट करने की इजाजत दी जाती है।

इसके अलावा भी कई फ़ायदे होते है जैसे की, team members’ ability to focus याने टीम के सदस्यों का ध्यान केंद्रित करने की क्षमता, reduction of wasted work याने व्यर्थ कार्य को कम करना, wasted time याने समय की बर्बादी को कम करना।

Kanban Rules – कनबन के नियम

अपने कंपनी या संगठन में कनबन प्रणाली को लागु करने के लिए कंपनी के सभी टीम मेंबर्स को कनबन के कुछ महत्वपूर्ण नियमों का पालन करना ज़रूरी होता है, तो आगे जानते है की कनबन प्रणाली के क्या नियम है।

  • केवल वही लेंना चाहिए जिसकी आवश्यकता है।
  • कभी भी दोषपूर्ण उत्पादों को पास नहीं करना चाहिये।
  • उत्पादन या प्रक्रिया के अनुकूलन को फाइन-ट्यून करें।
  • आवश्यक मात्रा का ही उत्पादन करें।
  • प्रक्रिया को स्थिर और युक्तिसंगत बनाएँ।
  • कनबन प्राधिकरण के बिना कोई भी प्रोडक्ट को स्थानांतरित या उत्पादित नहीं किया जाना चाहिए।

What Is Kanban Card – Kanban Card Kya Hai

कनबन कार्ड यह कनबन प्रणाली का एक प्रमुख घटक होता है, जो किसी व्यक्ति को उत्पादन के लिए सामग्री या घटक को स्थानांतरित करने, खरीदने या बनाने के लिए संकेत देता है। अक्सर कनबन कार्ड भौतिक कार्ड होते हैं जो किसी विशेष उत्पाद के प्रत्येक भाग से जुड़े होते हैं। और यह एक संचार उपकरण है जिसका उपयोग manufactring याने विनिर्माण क्षेत्र में किया जाता है।

एक कनबन कार्ड कई प्रकार के रूप में आ सकता है, जैसे कि रंगीन कार्ड, एक बिन, एक ई-मेल या दृश्य संकेत के कुछ वैकल्पिक रूप। लेकिन इन सबमें से रंगीन कार्ड कनबन का सबसे आम रूप है। kanban system in hindi

Kanban Card Definition

कनबन कार्ड शेड्यूलिंग डिवाइस हैं जो अधिक इकाइयों का उत्पादन करने के लिए उत्पादन लाइन को अधिकृत करते हैं। कनबन कार्ड कम्युनिकेशन करने का एक उपकरण है जिसे manufactring field में इस्तेमाल किया जाता है।

Types Of Kanban Cards

जापानी में कनबन का अर्थ ‘instruction card’ या ‘visual card’। ये कार्ड इस प्रकार की प्रणाली के लिए मुख्य उपकरण हैं। अगर आप अपने kanban communication system को लागू करने या सुधारने के लिए देख रहे हैं, तो आपको एक बात ध्यान में रखने की आवश्यकता होगी कि, आपके पास सभी प्रकार के कनबन कार्ड उपलब्ध हैं या नहीं। kanban card के छह प्रकार होते है जो नीचे दिए गये है।

  1. Withdrawal or Conveyance Kanbans
  2. Production Kanban
  3. Express Kanbans
  4. Emergency Kanbans
  5. Through Kanban card
  6. Supplier Kanban

कनबन कार्ड यह एक छोटा कार्ड होता है। इस कार्ड में production में जिन चीजों का उपयोग किया जाता है उन सभी भागों की जानकारी होती है।

kanban card पर सूचित की गयी जानकारी अलग-अलग हो सकती है, इस कार्ड में ज्यादातर यह जानकारी शामिल होती है जैसे की, part description (भाग विवरण), part/Item number (भाग या आइटम संख्या), an identifying bar code (एक बार कोड की पहचान), the number of parts to be moved/produced/ordered (स्थानांतरित /उत्पादित/ऑर्डर किए जाने वाले भागों की संख्या), routing information (रूटिंग सूचना), location information (स्थिति सूचना), लीड टाइम, the order date, the due date, type of container, number of containers, इत्यादी।

What Is Kanban Board – कनबन बोर्ड क्या है?

Kanban board यह कनबन मेथड के प्रमुख घटकों में से एक घटक है। जो वर्कफ़्लो विज़ुअलाइज़ेशन के लिए उपकरण एक है जिसे कार्य की कल्पना, कार्य प्रगति, और अधिकतम दक्षता या प्रवाह को देखने में मदद करने के लिए डिझाइन किया गया है।

कनबन बोर्ड पर अपने वर्कफ़्लो और कार्यों को विज़ुअलाइज़ करना यह आपको अपनी प्रक्रियाओं को बेहतर तरीके से समझने में और अपने कार्यभार का अवलोकन करने के लिए आपकी मदद करता है।

Kanban Board Example

यहाँ हमने कनबन बोर्ड का नमूना (kanban board example) दिया है, जो आपके प्रोजेक्ट के लिए बहुत उपयोगी हो सकता है।

kanban system in hindi, types of kanban, kanban board example, what is kanban board, kanban system in hindi
kanban board example-1
kanban board example, what is kanban board, kanban system in hindi, kanban card definition, types of kanban cards
kanban board example-2

Main Components Of Kanban Board

कनबन बोर्ड ये कार्ड, कॉलम, स्विमलैन्स और वर्क-इन-प्रोग्रेस लिमिट्स इन चार मुख्य घटकों का उपयोग करते हैं ताकि टीमों को अपने वर्कफ़्लो को बेहतर और प्रभावी ढंग से देखने और प्रबंधित करने के लिए सक्षम बनाया जा सके। तो आगे कनबन बोर्ड के मुख्य कंपोनेंट्स याने घटक के बारे में जानते है।

1. kanban cards

इन प्रत्येक कार्ड में कार्य और उसकी स्थिति के बारे में जानकारी होती है, जैसे कि समय सीमा, विवरण, असाइनमेंट, इत्यादी। और यह कार्यों का दृश्य प्रतिनिधित्व करता है।

2. Work-in-Progress Limits

WIP को सीमित करने से आप अपनी टीम को सिर्फ़ वर्तमान के काम पर ध्यान केंद्रित करने में मदद कर सकते है और तेजी से काम पूरा कर सकते हैं।

3. kanban columns

बोर्ड पर हर एक कॉलम आपके वर्कफ़्लो के अलग-अलग चरण का प्रतिनिधित्व करता है। कार्ड वर्कफ़्लो के माध्यम से पूरा होने तक गुजरते हैं। वर्कफ़्लोज़ “To Do, In Progress, Complete” के रूप में सरल हो सकते हैं।

4. kanban swimlanes

ये horizontal lanes हैं जिसे आप विभिन्न प्रकार की गतिविधियों, टीमों, सेवा की कक्षाओं, और बहुत कुछ करने के लिए इसका उपयोग कर सकते हैं।

तो आशा करते है की आपको What is kanban system in hindi, kanban principles, Types of kanban की पूरी जानकारी मिली होंगी, अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी तो अपने दोस्तों में ज़रूर share करें और हमे comments करके बताये।

About Rashmi Alone

I am a professional blogger from India. Here at "Hindi Sutra" I write all about Investment, Business, Internet, Management, Technology tips, Education, etc.

Leave a Comment